पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाले को लेकर पूर्व TMC नेता बैसाखी बनर्जी ने पार्थ चटर्जी को लेकर किया अहम खुलासा

पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में ED ने सीएम ममता बनर्जी के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी को हिरासत में ले रखा है। चटर्जी पर शिक्षक भर्ती में धांधली करने का आरोप है। पूर्व मंत्री के बारे में बैसाखी बनर्जी ने कई चौकाने वाले खुलासे किए हैं।

पिछले दिनों प्रवर्तन निदेशालय ने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार के मंत्री पार्थ चटर्जी को शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में गिरफ्तार किया था। इसी केस में उनकी सहयोगी अर्पिता चटर्जी को भी ईडी ने हिरासत में लिया था। गौरतलब है , केंद्रीय जांच एजेंसी ने अर्पिता चटर्जी के कई ठिकानों से 50 करोड़ रूपये से अधिक की नकदी और अहम दस्तावेज बरामद किए हैं। अब पार्थ चटर्जी को लेकर पूर्व टीएमसी नेता बैसाखी बनर्जी ने कई चौकाने वाले खुलासे किए हैं।

बैसाखी बनर्जी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया ,” यह बहुत दुखद बात है कि पार्थ चटर्जी ने मुझे यह कहकर राजनीती में बुलाया था कि यहां भ्रष्टाचार है। यदि आप जैसे अच्छे परिवार के लोग तो वे राजनीती के लिए नहीं बल्कि पेंशन के लिए आएंगे। ”

पूर्व टीएमसी नेता ने आगे कहा ,” जब मैंने पार्टी में काम करना शुरू किया तो देखा कि हम शिक्षक नेता कम रह गए बल्कि शैक्षिक माफिया ज्यादा बन गए। यहां हर पद को बेचा जा रहा था। नेताओं की जीवन शैली बदल रही थी , वो बिसलरी के पानी से मुंह धोने लगे थे। पार्थ चटर्जी ने सिर्फ दिखाने के लिए कई लोगों को बर्खास्त किया। वह इस दलदल में फसते जा रहे थे। ”

बनर्जी ने आगे बताया ,” उनके फेवर की वजह से ऐसे लोग विश्वविद्यालयों में पढ़ाने लगे थे जो स्कूलों में भी पढ़ाने लायक नहीं थे। पार्थ चटर्जी अपने से ऊपर किसी को नहीं मानते थे , यहां तक की सीएम ममता बनर्जी को भी नहीं। “

Comments

Translate »